Skip to main content

Posts

Showing posts from May, 2016

Illegal Schools At Thane, Navi Mumbai, Kalyan Dombivli Region, But No Action...

Illegal schools at Thane district is operating since many years due to humble cooperation of District Education officer Meena Shedkar Yadav , Dr. A.R.Patnigire, DMC Education  of Navi Mumbai Municipal Corporation , SURESH Awari of KDMC  Education, Kalyan Dombivali Municipal Corporation.Since last 5-7 years they are publishing news of illegal schools but deny action. Their duty ends after press release. They have power to fine as per Section 18(5)of RTE act 2009 with criminal act under IPC but they avoid it. They are heavily bribed to deny. Due to this thousands of students are taking admission in schools which are unfit to train kids. These officers can be book in criminal FIR under section 166,188,420,34,120,406,409 of IPC at any police station.

Mumbai: Railway Do not Insist To Follow Own Rules To Motorman

Grievance Status Print  ||  Logout PMO Reply to Us that why Motor Man did not wear dress inspite of rule that all operational staff to wear uniform including motorman. They give silly excuse that Motorman is targeted by unsocial element. It better to change law then to give relaxation without any amendment. Now in future Police will say that wearing uniform will endanger their life. The Responsible should be booked Under Sec 188, 166 and 409 of IPC beacuse they failed to implement law. In future people deny to buy ticket because they do not have change .   Status as on 30 May 2016 PMOPG/E/2016/0105012 SK Shrivastava 01 Apr 2016 Prime Ministers Office ELECTRICAL OPERATIONS DRM BLDG MUMBAI CENTRAL 400008 022267644301 The central railway and western railway Mumbai Motorman has dress code as per RTI reply By Shri Jagdish Chaudhary (Dy CEE/L/op)WR and by Shri KN Singh (Sr DOM

सिगरेट के धुएं में आप यूं उड़ा देते हैं 1 करोड़, Smoking Cost Rs 1Cr per person

SMOKING COST FULL LIFE INVESTMENT.... 31 मई को दुनिया भर में नो टबैको डे मनाने की तैयारी चल रही है। तंबाकू सेवन से न सिर्फ सेहत बिगड़ती है बल्कि इससे जेब भी ढीली होती है। ईटी वेल्थ के एक अनुमान के मुताबिक, 30 साल का एक व्यक्ति अगर दिन में 5 सिगरेट पीता है तो 60 साल की उम्र तक वह करीब 1 करोड़ रुपये खर्च कर देता है। आइये जानते हैं, कैसे 1 करोड़ रुपये धुएं में उड़ जाते हैं। सिगरेट खरीदने पर खर्च सिगरेट की कीमत 10-15 रुपये होती है। हम एक सिगरेट की कीमत 12 रुपये औसत मान लेते हैं। एक दिन में पांच सिगरेट पीने पर 60 रुपये खर्च होगा यानी महीने में 1,800 रुपये। इस तरह से 30 साल की अवधि में सिगरेट खरीदने पर आपके 24.47 लाख रुपये खर्च होंगे। इस पैसे को अगर कहीं निवेश कर देंगे तो 9 फीसदी ब्याज दर से यह पैसा 30 साल में करीब 69.23 लाख रुपये बन जाएगा। इलाज पर खर्च सिगरेट पीने का असर स्वास्थ्य पर पड़ता है। ज्यादा सिगरेट पीने वाले को अकसर सांस से जुड़ी बीमारी हो जाती है। इसके अलावा कैंसर और हार्ट अटैक का खतरा भी बढ़ जाता है। इलाज के ऊपर हर महीने कम से कम 400 रुपये खर्च हो जाते हैं यानी 30

8,000 साल पुरानी है सिंधु घाटी सभ्यता, खराब मॉनसून के चलते उजड़ी थी

Kolkatta: शायद अब इतिहास की किताबों को दोबारा  लिखना होगा। आईआईटी खड़गपुर और भारतीय पुरातत्व विभाग के वैज्ञानिकों ने सिंधु घाटी सभ्यता की प्राचीनता को लेकर नए तथ्य सामने रखे हैं।  वैज्ञानिकों के मुताबिक सिंधु घाटी की सभ्यता 5,500 साल नहीं बल्कि 8,000 साल पुरानी थी।  इस लिहाज से यह सभ्यता मिस्र और मेसोपोटामिया की सभ्यता से भी पहले की हुई। मिस्र की सभ्यता के 7,000 ईसा पूर्व से 3,000 ईसा पूर्व तक रहने के प्रमाण मिलते हैं, जबकि मेसोपोटामिया की सभ्यता 6500 ईसा पूर्व से 3,100 ईसा पूर्व तक अस्तित्व में थी। रिसर्चर्स ने इसके अलावा हड़प्पा सभ्यता से 1,000 वर्ष पूर्व की सभ्यता के भी प्रमाण खोज निकाले हैं। वैज्ञानिकों का यह शोध प्रतिष्ठित रिसर्च पत्रिका 'नेचर' में प्रकाशित हुआ है। 25 मई को प्रकाशित यह लेख दुनिया भर में सभ्यताओं के उद्गम को लेकर एक नई बहस छेड़ सकता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने 3,000 वर्ष इस सभ्यता के लुप्त होने के कारणों का भी पता लगा लिया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक मौसम में बदलाव के चलते यह सभ्यता विलुप्त हो गई थी। आईआईटी खड़गपुर के जियॉलजी एवं जियोफिजिक्स

Media person Attacked At Patna Police Not Registering FIR

बिहार: मीडियाकर्मी से मारपीट- किडनैपिंग की कोशिश, पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR Patna:बिहार में एक बार फिर मीडियाकर्मी पर हमले का मामला सामने आया है। शुक्रवार रात कुछ बदमाशों ने The Telegraph  Rakesh Singh को किडनैप करने की कोशिश की। उन्हें काफी पीटा गया। बदमाशों ने राकेश सिंह से एटीएम का पासवर्ड पूछकर पैसे भी निकाल लिए। हैरानी की बात ये है कि पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज करने से ही इनकार कर दिया।  क्या है मामला....   - शुक्रवार रात राकेश सिंह अपने ड्राइवर के साथ घर लौट रहे थे। राकेश एक अंग्रेजी अखबार में प्रोडक्शन मैनेजर हैं।  उनके ड्राइवर ने एक स्कॉर्पियों को ओवरटेक किया।  - कुछ देर बदमाशों ने राकेश की गाड़ी को रोक लिया। उनके ड्राइवर से मारपीट की। इसके बाद राकेश को अपनी गाड़ी में बिठा लिया। उनकी पिस्तौल की बट से पिटाई की गई।  - बदमाशों ने राकेश सिंह से एटीएम कार्ड छीन लिया। पासवर्ड पूछा और पैसे भी निकाल लिए।  - राकेश के ड्राइवर ने ऑफिस पहुंचकर घटना की जानकारी दी। राकेश के साथी उन्हें खोजने निकले।  - बदमाशों की गाड़ी एक चौराहे पर बंद हुई तो वो उसे छोड़कर भाग

RBI Governer is American Citizen: Swamy

नई दिल्ली बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन पर फिर हमला बोलते हुए उनके खिलाफ छह आरोप  लगाए.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्हें तत्काल इस पद से बर्खास्त करने की मांग की। स्वामी ने आरोप लगाया कि राजन ने ब्याज दरों को ऊंची रखकर लघु एवं मझोले उद्योगों को नुकसान किया। बीजेपी सांसद ने कहा कि गवर्नर को ब्याज दर बढ़ाने और उसे ऊंचा रखने के नतीजों के बारे में समझना चाहिए थे।  स्वामी ने कहा कि राजन की यह नीति जान-बूझकर थी, इसके पीछे मंशा राष्ट्र विरोधी थी। उन्होंने यह दावा भी किया कि राजन शिकागो विश्वविद्यालय के अपने ईमेल आईडी के जरिये गोपनीय एवं संवेदनशील वित्तीय सूचनाएं भेजते रहे हैं जो असुरक्षित है। इसके अलावा वह सार्वजनिक तौर पर बीजेपी सरकार का अपमान करते रहे हैं। स्वामी ने कहा कि उन्होंने रिजर्व बैंक गवर्नर पर जो छह आरोप लगाए हैं, वे प्रथम दृष्टया सही हैं। ऐसे में राष्ट्र हित में राजन को तत्काल बर्खास्त किए जाने की जरूरत है। मोदी को एक पखवाड़े में लिखे दूसरे पत्र में स्वामी ने आरोप लगाया कि एक संवेदनशील तथा काफी ऊंचे सरकारी पद पर होने के बावजूद राज

Now Bread Companies Will Not Cheat Public......

FSSAI ने पोटैशियम आयोडेट, पोटैशियम ब्रोमेट का इस्तेमाल रोकने के ब्रेड निर्माताओं के फैसले का स्वागत किया नई दिल्ली CSE और FSSAI ने ब्रेड निर्माताओं के उस फैसले का गुरुवार को स्वागत किया जिसमें उन्होंने पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट का ऐडिटिव के तौर पर इस्तेमाल रोकने का फैसला किया है। CSE ने कहा कि यह कैंसर पैदा करने वाले इस रसायन से जन स्वास्थ्य को होने वाले खतरे को कम करेगा। सेंटर फॉर सायेंस ऐंड इन्वाइरनमेंट के उप निदेशक चंद्र भूषण ने कहा, 'हमने ब्रेड निर्माता संघ की घोषणा को सुना है. हम खुश हैं कि उन्होंने दो-तीन दिन में पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट का इस्तेमाल रोकने का फैसला किया है। यह इन रसायनों से जन स्वास्थ्य को होने वाले खतरे को कम करेगा।' फूड रेग्युलेटर FSSAI ने भी गुरुवार को कहा कि ब्रेड निर्माताओं के इस फैसले से लोगों की आशंकाओं को खत्म करेगा। FSSAI के CEO पवन अग्रवाल ने कहा, 'CSE के रिपोर्ट से जो आशंकाएं उभर कर आई थीं, उसको ब्रेड निर्माताओं के इस फैसले से कुछ कम करने में मदद मिलेगी। यह फैसला बताता है कि ब्रेड निर्माता जनता के स्वास्थ्य

Defense Training For Bajarang Dal Activist At UP

बंदूक चलाना सीखा रहे बजरंग दल Ayodhaya:दक्षिणपंथी संगठन बजरंग दल अपने कैडर्स को अयोध्या में राइफल चलाने व तलवार और लाठियों के बेहतर इस्तेमाल की ट्रेनिंग दे रहा है। अयोध्या में इसके लिए ट्रेनिंग कैंप का आयोजन किया गया। अब बजरंग दल की योजना पांच जून से पहले सुल्तानपुर, गोरखपुर, पीलीभीत, नोएडा व फतेहपुर में ऐसे कैंप आयोजित करने की है। इन कैंपस में अपने कैडर्स को राइफल चलाने और तलवार व लाठियों का बेहतर इस्तेमाल करने की ट्रेनिंग देने की योजना है। इसके पीछे यह तर्क दिया जा रहा है कि अगर उन्हें हथियार चलाना आएगा तो वे अपनी और दूसरों की सुरक्षा कर पाएंगे। इस सूचना के बाद यूपी का तापमान एकबार फिर बढ़ गया है। गौरतलब है कि अगले साल की शुरुआत में ही यूपी में चुनाव भी होने हैं। इस पूरी कवायद को चुनाव से भी जोड़ कर देखा जा रहा है। कैंप में चल रहा प्रशिक्षण बजरंग दल की कोशिश अपने कैडर्स को मिलिट्री टाइप ट्रेनिंग देने की है। ये ट्रेनिंग शिविर इसी कोशिश का नतीजा है। विपक्षी पार्टियां इसे चुनाव के पहले माहौल खराब करने की कवायद बता रही हैं। ट्रेनिंग कैंप की कई तस्वीरें भी वायरल हुई हैं। इन तस्वीरों

Pakistan:Dollar surpasses Rs106 in open market after three months

KARACHI: The US dollar crossed another barrier of Rs106 in the open market on Monday after a gap of almost three months creating doubt regarding the stability of exchange rates achieved after the massive fluctuations around six months ago. The dollar gained about Re1 against the local currency within a couple of weeks, reflecting fast appreciation of the US currency despite the fact that the exchange rate in the inter-bank market remained almost unchanged. “The dollar was traded as high as Rs106.10 during the peak hours but finally settled at Rs105.70-80 at the end of the business day,” said Zaffar Pracha, secretary-general of the Exchange Companies Association of Pakistan. However, exchange companies of ‘B’ categories, which are in a much higher number, kept selling the dollar above Rs106. They said the pressure could remain in the market before Ramazan. During Ramazan, the dollar normally loses against the local currency due to large inflows mainly on account of Zakat and

आप जो रोज ब्रेड खाते हैं, उनसे हो सकता है कैंसर: स्टडी, Cancer particles in Bread!

रिसर्च में आया कि ब्रेड से होता है कैंसर, ब्रेड असोसिएशन ने कहा FSSAI से है मंजूरी नई दिल्ली आपकी रोज खाने वाली ब्रेड में कुछ ऐसे तत्व शामिल हो सकते हैं, जिनसे कैंसर होने का खतरा है। सेंटर फॉर सायेंस ऐंड इन्वाइरनमेंट (CSE) ने देश की राजधानी दिल्ली में बेचे जाने वाले कुछ बड़ी कंपनियों की ब्रेड को लेकर एक रिसर्च किया। रिसर्च रिपोर्ट में यह निकलकर आया कि इन ब्रेड में पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट जैसे खतरनाक केमिकल्स मिले हो सकते हैं, जो कैंसर का कारण बनते हैं। रिसर्च रिपोर्ट में यह निकलकर आया कि इन ब्रेड में पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट जैसे खतरनाक केमिकल्स मिले हो सकते हैं, जो कैंसर का कारण बनते हैं। हालांकि ऑल इंडिया ब्रेड मैन्युफैक्चरर असोसिएशन ने कहा है कि ब्रेड में मिलाए जाने वाले केमिकल को फूड सेफ्टी ऐंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी (FSSAI) रेग्युलेशन की मंजूरी है। असोसिएशन के अध्यक्ष रमेश मागो ने इस मामले पर कहा है, 'हमने मई 2015 में कलेक्ट की गई ब्रेड पर आई CSE की रिपोर्ट नहीं देखी है, जिसमें ब्रेड में पोटैशियम ब्रोमैट होने की बात कही गई है। इस रिपोर्ट को देखने

कराची में पहले से खोदी जा रहीं हैं कब्रें पाकिस्तान में बढ़ती गर्मी का डर. More Graveyards and hospitals At Karachi Pakistan This Year.

Karachi-कराची.  पाकिस्तान के कराची में इन दिनों सामूहिक कब्रें खोदी जा रही हैं। भीषण गर्मी से होने वाली मौतों के बाद शवों को दफनाने के लिए ऐसा किया जा रहा है। हालांकि, अभी गर्मी और लू से कम ही लोग मारे गए हैं, लेकिन यहां कब्रों की तैयारी एडवांस में की जा रही है। बता दें कि पिछले साल गर्मी में पाकिस्तान 1,300 लोग मारे गए थे। फिलहाल पंजाब प्राविन्स में लू से अब तक 20 लोग मारे जा चुके हैं।  क्रब खोदने वाला खुद हो गया था लू का शिकार... - पाकिस्तान की न्यूज साइट 'द डॉन' के मुताबिक, इस काम को अंजाम देने वालों में कराची के शाहिद बलोच भी शामिल हैं। गर्मी ज्यादा बढ़े, इससे पहले वो अपने तीन भाइयों के साथ मिलकर ज्यादा से ज्यादा कब्रें खोद लेना चाहते हैं। - 28 साल के शाहिद इन दिनों ईदी फाउंडेशन के कब्रिस्तान में यह काम कर रहे हैं। - पिछले साल वे भी लू का शिकार हो गए थे। तब उन्हें एक दूसरे शख्स की मदद से 300 शवों के लिए कब्र खोदी थी। उनके मुताबिक, इस बार वे पहले से ज्यादा तैयार हैं। पिछले साल कम पड़ गई थी दफनाने की जगह - 2 करोड़ की आबादी वाले कराची शहर में पिछली गर्मियो

सुहागरात पर पता चला, दुल्हन तो किन्नर है

बरेली बरेली में अपने आप में एक अनोखा मामला सामने आया है। अप्रैल में शादी करने वाले कारीगर हरिओम की दुल्हन इन दिनों खासा चर्चा में है। असल में हरिओम की शादी तो लड़की से हुई थी, लेकिन सुहागरात पर उसे पता चला कि जिससे उसकी शादी हुई है, वह किन्नर है। यह जानकारी मिलते ही वह हैरान हो गया और पूरे घर में हंगामा खड़ा हो गया। लड़के के परिवारवालों ने अब एसपी सिटी से किन्नर के पिता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। बताया जाता है कि मामला सामने आने पर किन्नर के पिता ने अपनी छोटी बेटी की शादी हरिओम से करने का प्रस्ताव रखा, लेकिन उसका परिवार इसके लिए राजी नहीं हुआ। बरेली के महेशपुर गांव के हरिओम की शादी बीते महीने मढ़ीनाथ निवासी एक सरकारी स्कूल के चपरासी की बेटी से 28 अप्रैल को हुई थी। दुल्हन' के किन्नर होने की बात सामने आने पर हरिओम के पिता ने रात में ही दुल्हन का लिबास पहने किन्नर की अस्पताल लेकर डॉक्टरी जांच कराई। डॉक्टरों ने भी अपनी रिपोर्ट में दुल्हन को किन्नर घोषित कर दिया, इसके बाद दुल्हन बने किन्नर को मायके वापस भेज दिया गया। अब लड़के और उसके परिवारवाले एसपी सिटी के पास धोखाधड़ी की शि

Kayastha population in India- Survey

चित्रगुप्त साम्राज्य की टीम ने 2 महीने की मेहनत कर भारत के समस्त राज्यों से कायस्थ  जनसँख्या जानने की कोशिश की हे जिसके अनुसार सूची तयार हुई हे। उम्मीद हे कायस्थ अपनी शक्ति पहचाने और एकजुट होकर कार्य करे : 1) जम्मू कश्मीर : 2 लाख + 4 लाख विस्थापित 2) पंजाब : 9 लाख 3) हरयाणा : 14 लाख  4) राजस्थान : 78 लाख  5) गुजरात : 60 लाख  6) महाराष्ट्र : 45 लाख  7) गोवा : 5 लाख 8) कर्णाटक : 45 लाख  9) केरल : 12 लाख  10) तमिलनाडु : 36 लाख   11) आँध्रप्रदेश : 24 लाख  12) छत्तीसगढ़ : 24 लाख  13) उड़ीसा : 37 लाख  14) झारखण्ड : 12 लाख  15) बिहार : 90 लाख  16) पश्चिम बंगाल : 18 लाख 17) मध्य प्रदेश : 42 लाख   18) उत्तर प्रदेश : 2 करोड़  19) उत्तराखंड : 20 लाख  20) हिमाचल : 45 लाख  21) सिक्किम : 1 लाख  22) आसाम : 10 लाख 23) मिजोरम : 1.5 लाख  24) अरुणाचल : 1 लाख  25) नागालैंड : 2 लाख  26) मणिपुर : 7 लाख  27) मेघालय : 9 लाख  28) त्रिपुरा : 2 लाख  सबसे ज्यादा कायस्थ वाला राज्य: उत्तर प्रदेश  सबसे कम कायस्थ वाला राज्य : सिक्किम  सबसे ज्य

Railway Advertisement in 1937 To Attract Passengers To Visit Bombay

In 1937 Railway was facing lack of passengers to travel , so railway launched new scheme to attract commutaters to visit bombay . The fare was 7 annas from Andheri to Churchgate and now it is Rs 15. A news paper ad in 1937 inviting people to visit BOMBAY from far away places like Andheri and Bandra.

Ready To Fly Indian Space Shuttle

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) एक बार फिर कामयाबी के झंडे को गाड़ने के लिए तैयार है। पहली बार एक ऐसी उड़ान भरने जा रहा है जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाएगी। इसरो ‘स्पेस शटल’ के स्वदेशी स्वरूप (रीयूजेबल लॉन्च व्हीकल- टेक्नोलॉजी डेमोनस्ट्रेटर, पुन: प्रयोग योग्य प्रक्षेपण यान- प्रौद्योगिकी प्रदर्शक यानी आरएलवी-टीडी) के पहले प्रक्षेपण के लिए तैयार है। यह पूरी तरह से स्वदेशी (मेड-इन-इंडिया) प्रयास है। एक एसयूवी वाहन के वजन और आकार वाले एक प्रक्षेपण यान को श्रीहरिकोटा में अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके बाद प्रक्षेपण से पहले की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। बड़े देश एक द्रुतगामी और पुन: इस्तेमाल किए जा सकने वाले प्रक्षेपण यान के विचार को खारिज कर चुके हैं। लेकिन भारतीय इंजीनियरों का मानना है कि उपग्रहों को कक्षा में प्रक्षेपित करने की लागत को कम करने का उपाय यही है कि रॉकेट को रिसाइक्लिंग कर दोबारा इस्तेमाल के लायक बनाया जाए। मानसून आने के पूर्व भर सकता है उड़ान सब कुछ ठीक रहा तो मानसून आने से पहले भारतीय अंतरिक्ष केंद्र श्रीहरिकोटा से स्वदेश निर्मित रीयूजेबल लॉन्च व्ह

Personal plane : Can take off from your Garden also In 2018

जल्द आएगा छोटा पर्सनल प्लेन जो घर के बाग से भी भर सकेगा उड़ान बर्लिन जर्मनी की एक स्टार्ट-अप कंपनी विश्व का पहला बिजली से चलने वाला पर्सनल प्लेन बना रही है।  इसे दीवार में लगे सॉकेट से चार्ज किया जा सकता है और यह आपके बाग से भी उड़ान भर सकेगा और उतर भी सकेगा। यह विमान इको फ्रेंडली हैं। दो सीटों वाले पूरी तरह से बिजली से चलने वाले इस विमान में डक्ट वाले पंखे होंगे ताकि इसे पारंपरिक हेलिकॉप्टर से ज्यादा आसान तथा सुरक्षित बनाया जा सके और इससे ज्यादा आवाज भी न हो। यूरोपीयन स्पेस एजेंसी के कारोबार इन्क्यूबेटर में मौजूद कंपनी लिलम के मुख्य कार्यकारी डैनियल वेगैंड ने कहा, 'हमारा लक्ष्य है रोजमर्रा के उपयोग के लिए एक विमान विकसित करना। हम एक विमान बना रहे हैं जिसके लिए हवाईअड्डे पर जटिल और खर्चीले बुनियादी ढांचे की जरूरत न हो।' इस कंपनी की स्थापना म्यूनिख विश्वविद्यालय के डैनियल समेत चार स्नातकों ने की है। डैनियल ने कहा, 'शोर-शराबा और प्रदूषण घटाने के लिए हम बिजली से चलने वाले इंजन का उपयोग कर रहे हैं ताकि इसका उपयोग शहरी इलाके के पास भी किया जा सके।' उन्होंने कहा कि इ

Custom Officer To Do Duty In Standing Position for 12 Hrs At Mumbai Airport

कमिश्नर का फरमान, 12 घंटे की ड्यूटी खड़े  होकर करें अधिकारी मुबंई (मिड डे)।  कस्टम ऑफिसर द्वारा रिश्वत की मांग करने वाले वीडियो के फेसबुक पर वायरल होने के एक दिन बाद मुबंई एयरपोर्ट में कस्टम के चीफ कमिश्नर ने विचित्र फरमान जारी किया है। इसके तहत ड्यूटी के दौरान कोई भी ऑफिसर कुर्सी का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा। वर्दीधारी कस्टम अधिकारी जो आमतौर पर स्कैन द्वारा सामान की जांच करते थे, अब उन्हें अपनी 12 घंटे की ड्यूटी खड़े होकर करनी होगी। सूत्रों के अनुसार, चीफ कमिश्नर चाहते हैं कि अधिकारी हमेशा चुस्त दुरूस्त और अलर्ट रहें। इसी दिशा में यह कदम उठाया गया है। शुक्रवार की सुबह मुबंई एयरपोर्ट में जब कस्टम विभाग के वर्दीधारी अधिकारी ड्यूटी पर लौटे तो तब उन्हें पता चला कि अब उन्हें 12 घंटे की शिफ्ट में खड़े होकर कार्य करना है। हर टीम में 12 सुप्रीटेंडेंट्स, 14 अन्य अधिकारी और 10 सिपाही तैनात हैं। इस निर्णय से निराश एक वरिष्ठ कस्टम अधिकारी ने बताया कि अधिकतर सिपाहियों की उम्र 50 वर्ष से अधिक है और टीम में कई महिलाएं भी हैं। नियम से प्रभावित एक अधिकारी ने बताया, "अन्य एजेंसि

110Cities List: Defense/Air force NOC Compulsory For Construction Of Building -RTI

Builders are doing construction of building near defense/ air force bases but they forgot to get any NOC from defense department. There are 110 cities in India where Defence NOC is must before construction for national security.The Indian ‘Aircraft Act, 1934’ Section 9A empowers the Central Government to restrict the construction of buildings and other structures within a radius of 20 Kms of all aerodromes. GoI, MoD letter No F.2 (9)/65/D (Air–II) dated 04 Jul 1966 prescribes the procedure for Air HQ to examine proposals for constructions around IAF aerodromes and make recommendations to MoD for issue/denial of No Objection Certificate (NOC). Without theses NOC Govt can demolish your building any time if any objection raise by defence. Even Pune Lohegaon region this NOC is must but many builders done construction of multi floor towers near 5 Km radius of airport DOWNLOAD-DEFENCE NOC GOVT CIRCULAR